Sunday, November 27, 2022
HomeBollywoodArvind Trivedi: जब अरविंद त्रिवेदी ने हेमा मालिनी को मारे थे 20...

Arvind Trivedi: जब अरविंद त्रिवेदी ने हेमा मालिनी को मारे थे 20 थप्पड़ 

Arvind Trivedi:रामानंद सागर की रमायण में रावण बने अरविंद त्रिवेदी के किरदार को आज भी लोग बहुत याद करते हैं। भले ही अरविंद त्रिवेदी आज हमारे बीच में नहीं लेकिन उनके द्वारा निभाए गए किरदार को लोग कभी नहीं भूल सकते हैं। आज उनका जन्मदिवस है। 8 नवंबर 1938 को अरविंद त्रिवेदी का जन्म मध्यप्रदेश के इंदौर में हुआ था। आज हम आपको उस किस्से के बारें में बताने जा रहे हैं जब अरविंद त्रिवेदी ने ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी को 20 थप्पड़ मारे थे।

Arvind Trivedi:रामानंद सागर की रमायण में रावण बने अरविंद त्रिवेदी के किरदार को आज भी लोग बहुत याद करते हैं। भले ही अरविंद त्रिवेदी आज हमारे बीच में नहीं लेकिन उनके द्वारा निभाए गए किरदार को लोग कभी नहीं भूल सकते हैं। आज उनका जन्मदिवस है। 8 नवंबर 1938 को अरविंद त्रिवेदी का जन्म मध्यप्रदेश के इंदौर में हुआ था। आज हम आपको उस किस्से के बारें में बताने जा रहे हैं जब अरविंद त्रिवेदी ने ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी को 20 थप्पड़ मारे थे।

ये किस्सा है 70 के दशक का। उस वक्त अरविंद त्रिवेदी फिल्म हम तेरे आशिक की शूटिंग कर रहे थे। फिल्म में हेमा मालिनी और जितेंद्र लीड रोल में थे जबकि अरविंद त्रिवेदी निगेटिव किरदार में थे। फिल्म के एक सीन में अरविंद त्रिवेदी को हेमा मालिनी को एक थप्पड़ मारना था। लेकिन अरविंद त्रिवेदी हेमा को थप्पड़ नहीं मार पा रहे थे।  उन दिनों तक हेमा मालिनी एक सुपरहिट एक्ट्रेस बन चुकी थीं और इसी वजह से वह हेमा को थप्पड़ मारने में डर रहे थे। ऐसे में इस सीन को फिल्माने के लिए 20 टेक हुए तब जाकर अंतिम टेक में ये सीन पूरा हुआ।

रामानंद सागर के बेटे प्रेम सागर ने एक इंटरव्यू में बताया था कि मैंने अरविंद त्रिवेदी को गुजराती मंच से लिया था। वह एक शानदार अभिनेता थे, लेकिन वह अपने भाई की छाया में रहना ही पसंद करते थे। उन्होंने फिल्म हम तेरे आशिक हैं में हेमा मालिनी के साथ काम किया था। इस फिल्म में हेमा मालिनी के साथ उनका एक सीन था जिसमें उन्हें हेमा को थप्पड़ मारना था। उन्होंने इसे करने के लिए 20 टेक लिए थे। बाद में हेमा और मैंने उनसे कहा कि उन्हें यह भूल जाना चाहिए कि वह एक बहुत बड़ी स्टार हैं और सीन पूरा करना चाहिए। फिर उन्होंने इस सीन को किया था।

रामानंद सागर की रामायण में पहले रावण का किरदार अमरेश पुरी को मिलने वाला था। लेकिन अरविंद त्रिवेदी इस रोल को पाने के लिए गुजरात से मुंबई आए थे। जब रामानंद सागर ने अरविंद त्रिवेदी बॉडी लैंग्वेज और एटीट्यूड को देखा तो उन्हें काफी पसंद आया और उन्हें रावण का किरदार दिया।

 

RELATED ARTICLES

Most Popular