Thursday, February 2, 2023
HomeBollywoodजब साठा (60 ) तब पाठा जब अस्सी (80) तब लस्सी :...

जब साठा (60 ) तब पाठा जब अस्सी (80) तब लस्सी : अमिताभ बच्चन

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन आज अपना 79वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं। इस खास मौके पर चारों से ओर उन्हें बधाईयां मिल रही हैं। खुद अमिताभ बच्चन ने एक ट्वीट करते हुए मजाकिया अंदाज में लिखा, जब साठा (60 ) तब पाठा जब अस्सी (80) तब लस्सी !!! मुहावरे को समझना भी एक समझ है !! इस कहावत के साथ उन्होंने अपने बुढ़ापे को नकारा है।

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन आज अपना 79वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं। इस खास मौके पर चारों से ओर उन्हें बधाईयां मिल रही हैं। खुद अमिताभ बच्चन ने एक ट्वीट करते हुए मजाकिया अंदाज में लिखा, जब साठा (60 ) तब पाठा जब अस्सी (80) तब लस्सी !!! मुहावरे को समझना भी एक समझ है !! इस कहावत के साथ उन्होंने अपने बुढ़ापे को नकारा है।

ये बिल्कुल सही बात है कि अमिताभ बच्चन इस उम्र में भी बिल्कुल फिट और जवां नजर आते हैं। वो अपने काम को लेकर बहुत सीरियस रहते हैं। इस उम्र में जब आमलोग घर में बैठकर आराम करते हैं। वहीं अमिताभ बच्चन नये-नये प्रोजेक्ट्स में काम करते दिख रहे हैं।

अमिताभ बच्चन ने फिल्मी पर्दें पर एक से एक बढ़कर फिल्में दी। उनकी दमदार अदायकी ने उन्हें सदी का महानायक बना दिया। लेकिन शुरुआत के दिनों में उन्हें भी असफलता झेलनी पड़ी थी। उन्होंने बॉक्स ऑफिस पर लगातार 12 फ्लॉप फिल्में दी थी। भारी आवाज और ऊंचा कद होने की वजह से डॉयेक्टर अमिताभ बच्चन को फिल्मों में लेने से इंकार कर देते थे। प्रकाश मेहरा के निर्देंशन में बनी फिल्म जंजीर उनके करियर के लिये मील का पत्थर साबित हुई। इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर सारे रिकॉर्ड तोड़ डाले और अमिताभ बच्चन रातों रात स्टार बन गये।

इसके बाद उन्होंने बॉक्स ऑफिस पर लगातार हिट फिल्में दी। उस दौर में राजेश खन्ना हिंदी सिनेमा जगत के सुपरस्टार हुआ करते थे। उनका स्टाइल और चार्म लोगों पर छाया हुआ था। लेकिन अमिताभ बच्चन की एक्टिंग और एक्शन ने राजेश खन्ना को पीछे छोड़ दिया। अमिताभ बच्चन के बाद कोई भी एक्टर सुपरस्टार नहीं बना। उनके जैसा बनने का हर एक्टर सपना देखता है लेकिन वो मुकाम पाना बहुत मुश्किल है।

अमिताभ बच्चन ने 200 से ज्यादा फिल्में की हैं। अपने अभिनय करियर में अनगिनत पुरस्कारों से नवाजे जा चुके हैं। उन्हें दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से लेकर पद्मश्री और पद्मभूषण तक का सर्वोच्च सम्मान मिल चुका है। 3 बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और 16 बार फिल्मफेयर अवॉर्ड जीतने वाले अमिताभ बच्चन एक्टर होने के साथ-साथ प्लेबैक सिंगर और फिल्म प्रोड्यूसर भी हैं। उन्होंने बड़े पर्दे के साथ ही छोटे पर्दे पर भी अपनी उपस्थिति से दर्शकों के दिलों में राज किया है। फिल्मों में उनके योगदान को देखते हुए साल 2015 में फ्रांस की सरकार ने भी उन्हें सर्वोच्च नागरिक सम्मान नाइट ऑफ द लीजन ऑफ ऑनर से सम्मानित किया।

RELATED ARTICLES

Most Popular