Friday, July 12, 2024
HomeBollywoodबर्थडे स्पेशल : जबरस्ती रेखा को किस करता रहा एक्टर, चींखती रही...

बर्थडे स्पेशल : जबरस्ती रेखा को किस करता रहा एक्टर, चींखती रही चिल्लाती रहीं लेकिन किसी ने नहीं की मदद

बॉलीवुड की खूबसूरत और वेटेरन अदाकारा रेखा आज अपना 67वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रही हैं। रेखा बॉलीवुड इंडस्ट्री की दिग्गज अदाकारा हैं। उन्होंने पर्दें पर एक से बढ़कर एक हिट फिल्में दी। उनका असली नाम भानुरेखा गणेशन लेकिन उन्हें उनके स्टेज नेम रेखा के नाम से जाना जाता है। रेखा ने अपने फ़िल्मी जीवन की शुरुआत साल 1966 में बतौर बाल कलाकार तेलुगु फ़िल्म 'रंगुला रत्नम' से की थी, लेकिन हिन्दी सिनेमा में उनका डेब्यू साल 1970 की फ़िल्म 'सावन भादों' से हुआ था।

बॉलीवुड की खूबसूरत और वेटेरन अदाकारा रेखा आज अपना 67वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रही हैं। रेखा बॉलीवुड इंडस्ट्री की दिग्गज अदाकारा हैं। उन्होंने पर्दें पर एक से बढ़कर एक हिट फिल्में दी। उनका असली नाम भानुरेखा गणेशन लेकिन उन्हें उनके स्टेज नेम रेखा के नाम से जाना जाता है। रेखा ने अपने फ़िल्मी जीवन की शुरुआत साल 1966 में बतौर बाल कलाकार तेलुगु फ़िल्म ‘रंगुला रत्नम’ से की थी, लेकिन हिन्दी सिनेमा में उनका डेब्यू साल 1970 की फ़िल्म ‘सावन भादों’ से हुआ था।

 

ये दास्तां है उस वक्त की जब रेखा मात्र 15 साल की थीं। विश्वजीत के साथ उनकी फिल्म थीं अनजाना सफर। लेकिन ये फिल्म बोल्ड कंटेंट के चलते सेंसरशिप में फंस गई थी और 10 सालों के बाद रिलीज हो पाई। फिल्म के एक सीन में उन्हें रेखा को किस करना था लेकिन वो जबरदस्ती रेखा को तकरीबन पांच मिनट तक किस करते रहे थे। अपने साथ हुए इस हादसे के चलते रेखा सेट पर ही रो पड़ी थीं। यासीर उस्मान की इस किताब का नाम है ‘रेखा : द अनटोल्ड स्टोरी’। इस किताब में इस घटना का जिक्र किया गया है।

फिल्म के एक गाने में रेखा और विश्वजीत को एक किसिंग सीन करना था, जिसके बारे में फिल्म मेकर्स ने पहले से रेखा को कुछ भी नहीं बताया था। रेखा इस सीन से बिल्कुल अंजान थीं कि शूटिंग के दौरान उनके साथ ऐसा क्या होने वाला है।
विश्वजीत ने जैसे ही रेखा को किस करना शुरू किया, वो चौंक गईं।

Rekha.

कैमरा रोल होता रहा सहमी हुई रेखा सब कुछ झेलती रहीं, पर ना तो विश्वजीत रुके और ना ही डायरेक्टर ने कट बोला। रेखा बुरी तरह से डर गई थीं लेकिन किसी ने भी इस सीन को नहीं रोका। ये घटना रेखा के लिये किसी बुरे सपने से कम नहीं थी।

 

RELATED ARTICLES

Most Popular