Monday, August 15, 2022
HomeInterviewश्रीदेवी अपनी बेटी को बनाना चाहती थीं डॉक्टर, एक इंटरव्यू में...

श्रीदेवी अपनी बेटी को बनाना चाहती थीं डॉक्टर, एक इंटरव्यू में एक्ट्रेस जाह्नवी कपूर ने किया खुलासा

बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवी भारतीय फिल्मों की पहचान हैं। अपनी अदाकारी से उन्होंने दुनियाभर में पहचान बनाई। ठीक उसी तरफ से उनकी लाड़ली बेटी जाह्नवी कपूर ने अपनी मेहनत के दम पर अपना मुकाम हासिल किया है। बता दें कि श्रीदेवी नहीं चाहती थी कि उनकी बेटी फिल्मों में अपना करियर बनाए। बल्कि वो चाहती थी कि उनकी लाड़ली एक डॉक्टर बने लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

नई दिल्ली। बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवी भारतीय फिल्मों की पहचान हैं। अपनी अदाकारी से उन्होंने दुनियाभर में पहचान बनाई। ठीक उसी तरफ से उनकी लाड़ली बेटी जाह्नवी कपूर ने अपनी मेहनत के दम पर अपना मुकाम हासिल किया है। बता दें कि श्रीदेवी नहीं चाहती थी कि उनकी बेटी फिल्मों में अपना करियर बनाए। बल्कि वो चाहती थी कि उनकी लाड़ली एक डॉक्टर बने लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

दरअसल बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस जाह्नवी कपूर ने अपनी एक्टिंग और अपने अंदाज से फिल्मी दुनिया में जबदस्त पहचान बनाई है। ‘धड़क’ से बॉलीवुड में कदम रखने के बाद जाह्नवी कपूर ने ‘रूही’, ‘गुंजन सक्सेना’ और ‘घोस्ट स्टोरीज’ जैसी कई फिल्मों में मुख्य भूमिका अदा की। यूं तो जाह्नवी कपूर के करियर को उनकी मां श्रीदेवी और पिता बोनी कपूर, दोनों ने ही खूब सपोर्ट किया है, लेकिन असल में श्रीदेवी नहीं चाहती थीं की जाह्नवी कपूर बॉलीवुड में डेब्यू करें। इस बात का खुलासा जाह्नवी कपूर ने इंडियन एक्सप्रेस को दिये इंटरव्यू में किया था।

जाह्नवी कपूर ने इंटरव्यू में बताया कि उनके पिता बोनी कपूर ने उन्हें एक्टिंग की दुनिया में कदम रखने में काफी मदद की और खूब सपोर्ट भी किया। एक्ट्रेस ने कहा, “वह हमेशा ही चिल रहते थे और वह वाकई में एक कपूर थे। उन्होंने मेरा काफी सपोर्ट किया और उन्होंने मां को भी मनाने में बहुत मदद की। मुझे लगता है कि मेरे माता-पिता आज जहां हैं, वहां तक पहुंचने के लिए उन्होंने बहुत मेहनत की है। जाह्नवी कपूर ने अपने माता-पिता के बारे में बात करते हुए आगे कहा, “मेरे पापा इस बात से बहुत एक्साइटेड थे कि मैंने खुद को साबित करने और अपनी जिंदगी में कुछ करने का निर्णय किया है। लेकिन मां का यह मानना था कि उन्होंने पूरी जिंदगी इस वजह से मेहनत की है, जिससे उनके बच्चे एक आसान जिंदगी जी सकें। लेकिन मेरी सोच उनसे बिल्कुल अलग थी।”

जाह्नवी कपूर ने इस बारे में बताते हुए आगे कहा, “मुझे नहीं लगता कि मैं उन चीजों से संतुष्ट हो जाती, जो मुझे मेरे माता-पिता से मिली है और उसी पर अपनी जिंदगी गुजारती।” बता दें कि जाह्नवी कपूर की डेब्यू फिल्म ‘धड़क’ के रिलीज होने से पहले ही श्रीदेवी ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया था। इससे इतर एले इंडिया को दिए इंटरव्यू में जाह्नवी कपूर ने बताया था कि उनकी मां ने उन्हें सलाह दी थी, “कभी भी दूसरों पर निर्भर मत रहो और खुद अपनी पहचान बनाओ।”
जाह्नवी कपूर ने अपने इंटरव्यू में श्रीदेवी के बारे में बात करते हुए कहा, “जब मैं बच्ची थी तो वह चाहती थीं कि मैं एक डॉक्टर बनूं। मुझे नहीं मालूम कि क्या बात थी। लेकिन मैं हमेशा ही उनसे कहती थी कि मॉम मुझे माफ करना, लेकिन मेरा डॉक्टर बनने का कोई भी इरादा नहीं है।”

RELATED ARTICLES

Most Popular