Saturday, July 2, 2022
HomeBollywoodZanjeer: जंजीर (Zanjeer) के लिए पहली पसंद थे धर्मेंद्र (Dharmendra) जानिए कैसे...

Zanjeer: जंजीर (Zanjeer) के लिए पहली पसंद थे धर्मेंद्र (Dharmendra) जानिए कैसे अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को ऑफर हुई फिल्म

Zanjeer:बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने हिंदी सिनेमा जगत को कई बड़ी हिट-सुपरहिट फिल्में दी। आज इंडस्ट्री में उनका नाम ही काफी है। कभी एक ऐसा वक्त भी था जब अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने लगातार 12 फ्लॉप फिल्में दी थी लेकिन जंजीर (Zanjeer) उनके करियर के लिए पत्थर का मील साबित हुई। इस फिल्म ने अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को रातोंरात स्टार बना दिया। लेकिन क्या आप जानते हैं जंजीर (Zanjeer) के लिए पहली पसंद धर्मेंद्र (Dharmendra) थे जानिए कैसे अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को ये फिल्म ऑफर हुई। 

Zanjeer:बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने हिंदी सिनेमा जगत को कई बड़ी हिट-सुपरहिट फिल्में दी। आज इंडस्ट्री में उनका नाम ही काफी है। कभी एक ऐसा वक्त भी था जब अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने लगातार 12 फ्लॉप फिल्में दी थी लेकिन जंजीर (Zanjeer) उनके करियर के लिए पत्थर का मील साबित हुई। इस फिल्म ने अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को रातोंरात स्टार बना दिया। लेकिन क्या आप जानते हैं जंजीर (Zanjeer) के लिए पहली पसंद धर्मेंद्र (Dharmendra) थे जानिए कैसे अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को ये फिल्म ऑफर हुई।

साल 1973 में रिलीज हुई फिल्म जंजीर (Zanjeer) ने अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) की किस्मत बदल डाली। इस फिल्म के जरिए एंग्री यंग मैन बनकर बच्चन साहब इंडस्ट्री में उभरे। शुरु में इस फिल्म के लिए धर्मेंद्र (Dharmendra) को अप्रोच किया गया था। डायरेक्टर प्रकाश मेहरा के बेटे पुनीत ने एक इंटरव्यू में बताया था कि धर्मेंद्र (Dharmendra) को इस फिल्म के लिए चुना गया था। प्रकाश मेहरा के साथ साल 1972 में रिलीज हुई फिल्म समाधि सफल रही थी। इसके बाद धर्मेंद्र (Dharmendra) ने इस फिल्म की स्टोरी डायरेक्टर को बतायी और उन्हें भी कहानी बेहद पसंद आ गई।

लेकिन धर्मेंद्र (Dharmendra) किसी और काम में व्यस्त हो गए थे। वो 1 साल तक इस फिल्म में काम नहीं कर सकते थे। ऐसे में प्रकाश मेहरा फिल्म के लिए इंतजार नहीं कर पा रहे थे। उन्होंने उस समय में 3,500 रुपये में धर्मेंद्र (Dharmendra) से फिल्म की स्क्रीप्ट खरीद ली। अब प्रकाश मेहरा ने फिल्म के लिए राजकुमार को अप्रोच किया था लेकिन वो हैदराबाद में शूटिंग करना चाहते थे तो बात नहीं बन पायी। फिर प्रकाश मेहरा ने देव आनंद से बात की तो देव आनंद को फिल्मों में गाने चाहिए थे। देव आनंद से भी फिल्म की बात नहीं बनी।

फिर प्राण साहब के कहने पर प्रकाश मेहरा ने बॉम्बे टू गोवा देखी। फिल्म देखते ही प्रकाश मेहरा चिल्लाए मिल गया।  प्रकाश मेहरा के इस फैसले की कई लोगों ने निंदा की थी। लोगों को लग रहा था कि अमिताभ को कोई हिट नहीं दी है, तो ऐसे में उन्हें जंजीर के लिए साइन करना सही नहीं था। लेकिन प्रकाश मेहरा ने इन सबपर ध्यान नहीं दिया और अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को लेकर फिल्म बनाई। ये फिल्म सुपर-डुपर हिट हुई। अमिताभ बच्चन अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने साबित कर दिया कि वो एक बहुत ही बेहतरीन कलाकार हैं।

 

RELATED ARTICLES

Most Popular