Friday, July 1, 2022
HomeBollywoodरणधीर कपूर : 34 साल पहले ही पत्नी से अलग हो गये...

रणधीर कपूर : 34 साल पहले ही पत्नी से अलग हो गये थे रणधीर कपूर (Randhir Kapoor), लेकिन कभी नहीं लिया तलाक

रणधीर कपूर : हिंदी सिनेमा के शो मैन राज कपूर (Raj Kapoor) के बड़े बेटे रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) भले ही बहुत कम फिल्मों में काम किया हो लेकिन उनके लुक्स को हमेशा पसंद किया गया। अपने गुड लुक और चार्मिंग पर्सनालिटी की वजह से वो हमेशा दर्शकों के पसंदीदा अभिनेता रहे। बॉलीवुड इंडस्ट्री में उनकी एंट्री एक रोमांटिक हीरो के तौर पर हुई थी। आज रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) अपना 75वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं आइये जानते हैं उनके जिदंगी से जुड़े कुछ खास पहलू।

रणधीर कपूर : हिंदी सिनेमा के शो मैन राज कपूर (Raj Kapoor) के बड़े बेटे रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) भले ही बहुत कम फिल्मों में काम किया हो लेकिन उनके लुक्स को हमेशा पसंद किया गया। अपने गुड लुक और चार्मिंग पर्सनालिटी की वजह से वो हमेशा दर्शकों के पसंदीदा अभिनेता रहे। बॉलीवुड इंडस्ट्री में उनकी एंट्री एक रोमांटिक हीरो के तौर पर हुई थी। आज रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) अपना 75वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं आइये जानते हैं उनके जिदंगी से जुड़े कुछ खास पहलू।

साल 1959 से ही बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट उन्होंने फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था। रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) पहली बार फिल्म ‘दो उस्ताद’ (Do Ustad) में नजर आए थे, जिसके बाद उन्होंने साल 1971 में आई फिल्म ‘कल आज और कल’(Kal Aaj Aur Kal) में काम किया जो कि उनकी डेब्यू फिल्म थी और इसमें उन्होंने इतनी बेहतरीन एक्टिंग की वो यही से हीरो बन गए। इसके बाद रणधीर कपूर ने एक से बढ़कर एक फिल्में दी जिसमें धरम-करम (Dharam-Karam), कसमे-वादे (Kasme Waade), जवानी-दीवानी (Jawani-Diwani), श्री 420 (Shree 420), चाचा-भतीजा (Chacha-Bhatija) जैसी सुपरहीट फिल्में शामिल हैं।

भले ही फिल्मों में रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) की सफलता का सफर ज्यादा लंबा ना चला हो लेकिन 70 का दशक रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) का दौर था। लड़कियां उनपर अपनी जान लुटाती थीं। रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) का करियर जब तेज रफ्तार पकड़ रहा था तब उनकी जिदंगी में बबीता (Babita) की एंट्री हुई।

रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) और बबीता (Babita) की लव स्टोरी किसी फिल्म की कहानी से कम नहीं है। रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) ने सोच लिया था कि वो शादी करेगें तो बस बबीता (Babita) से ही करेंगे। लेकिन रणधीर कपूर के पिता राज कपूर और दादा जी पृथ्वीराज कपूर इस रिश्ते के लिये तैयार नहीं थे। क्योंकि कपूर परिवार में ये रिवाज था कि एक्ट्रेस को बहू नहीं बनाना है।

लेकिन रणधीर कपूर अपनी जिद पर अड़े रहे तो ऐसे में बबीता कपूर से शर्त रखवायी गई कि शादी के बाद वो अपनी फैमली पर ही ध्यान देगीं ना कि फिल्मों में। बबीता ने अपने ससुराल वालों की ये शर्त मान ली और साल 1971 में दोनों की शादी हो गई। शादी के बाद रणधीर कपूर और बबीता दो बेटियों करिश्मा और करीना के मम्मी-पापा बने।

साल 1983 में रणधीर कपूर और बबीता के रिश्तों में खटास आनी शुरु हो गई। इसके बाद साल 1988 में दोनों ने अलग होने का फैसला कर लिया। अलग होने के बाद दोनों बेटियां अपनी मां बबीता के साथ रहा करती थीं तो वहीं रणधीर  बिल्कुल अकेले पड़ गए थे। रणधीर कपूर के शराब पीने की वजह से बबीता उनसे अलग हो गई थीं। बबीता को रणधीर कपूर की ये आदत बिल्कुल भी पसंद नहीं थी।

आखिरकार 19 साल अलग रहने के बाद  दोनों साल 2007 में एक हो गए। तब से अब तक कपल एक-दूसरे के साथ ही रह रहे हैं और हैपी मैरिज लाइफ स्पेंड कर रहे हैं। बबीता ने कपूर खानदान के रिवाजों को तोड़ते हुए अपनी दोनों बेटियों को एक्ट्रेस बनाया। करिश्मा और करीना जो आज इंडस्ट्री की टॉप एक्ट्रेसस हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular