Wednesday, June 29, 2022
HomeBollywoodवहिदा रहमान : जब धर्म की वजह से वहिदा रहमान (Waheeda Rehman)...

वहिदा रहमान : जब धर्म की वजह से वहिदा रहमान (Waheeda Rehman) को झेलना पड़ा था रिजेक्शन 

वहिदा रहमान : हिंदी सिनेमा जगत की दिग्गज अदाकारा वहिदा रहमान (Waheeda Rehman) आज अपना 84वां जन्मदिन मना रही हैं। 50-60 के दशक में वहिदा रहमान की खूबसूरती, डांस और अदाकारी के लोग दीवाने थे। हर जुबां पर उनका नाम छाया हुआ था। वहिदा रहमान के साथ हर अभिनेता फिल्म करने के लिये उत्सुक रहते थे।

वहिदा रहमान : हिंदी सिनेमा जगत की दिग्गज अदाकारा वहिदा रहमान (Waheeda Rehman) आज अपना 84वां जन्मदिन मना रही हैं। 50-60 के दशक में वहिदा रहमान की खूबसूरती, डांस और अदाकारी के लोग दीवाने थे। हर जुबां पर उनका नाम छाया हुआ था। वहिदा रहमान के साथ हर अभिनेता फिल्म करने के लिये उत्सुक रहते थे।

उन्होंने हिंदी सिनेमा जगत को कई बड़ी हिट-सुपरहिट फिल्में दी। उन्होंने अपने दम पर हिंदी सिनेमा में एक अलग मुकाम हासिल किया है। लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब इतनी काबिलियत होने के बावजूद वहिदा रहमान को धर्म की वजह से डांस सिखाने से इंकार कर दिया गया था।

टीवी रिएलिटी शो डांस दीवाने के सेट पर वहिदा रहमान ने अपनी जिदंगी से जुड़े इस किस्से को सबके सामने शेयर किया था। कैसे उन्हें मुस्लिम होने की वजह से भारत नाट्यम सीखने से मना कर दिया गया था। वहिदा रहमान को इसके लिये कड़ी मशक्कत करना पड़ा था। आखिरकार उनकी कुंडली देखने के बाद गुरुजी  वहिदा रहमान को भारत नाट्यम सीखने के लिये राजी हुए थे।

वहिदा रहमान ने बताया था कि मेरे दिमाग में तो उन्हीं से सीखने की धुन थी। मैं अपने दोस्त को उनके पास भेजती रही। फिर उन्होंने उससे मेरी कुंडली लाने को कहा पर हमारे यहां कुंडली नहीं बनवाते हैं। तब उन्होंने मेरी बर्थ डेट मांगी और खुद मेरी कुंडली बनाई। कुंडली देखकर वह आश्चर्य से बोले कि यह लड़की मेरी आखिरी और सबसे अच्छी स्टूडेंट होगी।

इसके बाद सही में वहिदा रहमान गुरुजी की सबसे अच्छी स्टूडेंट निकलीं। उन्होंने बहुत मन से डांस सीखा। वहिदा रहमान को फिल्म गाइड से हिंदी सिनेमा जगत में एक अलग पहचान मिली थी। इस फिल्म में वो देव आनंद के साथ नजर आयी थीं। वहिदा का नाम गुरुदत्त के साथ जुड़ा था। कहा जाता है कि वहिदा रहमान की वजह से गीता दत्त और गुरुदत्त की शादी शुदा जिदंगी में दरार आ गई थी।

गुरुदत्त ने वहिदा रहमान को प्रपोज भी किया था लेकिन वहिदा ने कभी इसका जवाब में हां में नहीं दिया था। जिसके बाद गुरुदत्त ने खुद को शराब के नशे में डूबा दिया था। अपनी बेहतरीन अदाकारी के लिये वहिदा रहमान को पद्मश्री, पद्मभूषण और नेशनल फिल्म अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है।

RELATED ARTICLES

Most Popular