Thursday, February 2, 2023
HomeBollywoodदिल्ली एसिड अटैक की घटना ने कुरेदा कंगना रनौत का 16 साल...

दिल्ली एसिड अटैक की घटना ने कुरेदा कंगना रनौत का 16 साल पुराना दर्द, कहा 52 सर्जरी से गुजरना पड़ा था

Kangana Ranaut: हाल ही में दिल्ली के द्वारका इलाके में एक 17 वर्षीय लड़की पर एसिड अटैक हुआ। लड़की पर ये अटैक उस वक्त हुआ जब वो अपनी बहन के साथ स्कूल से लौट रही थी। इस घटना ने पूरे देश को हिला कर रख दिया है। बताया जा रहा है कि जिस लड़के ने अटैक किया वो पहले पीड़िता का दोस्त था। दोनों का ब्रेकअप हो गया था। इसी का बदला लेने के लिए लड़के ने लड़की के चेहरे पर एसिड फेंक दिया। इस घटना में लड़की बुरी तरह से घायल हो गई है। उसका चेहरा झुलस गया और आंखे तक खुल नहीं पा रही है। उसका गंभीर अवस्था में अस्पताल में इलाज जारी है। इस घटना पर अब कंगना रनौत की प्रतिक्रिया सामने आयी है।

Kangana Ranaut: हाल ही में दिल्ली के द्वारका इलाके में एक 17 वर्षीय लड़की पर एसिड अटैक हुआ। लड़की पर ये अटैक उस वक्त हुआ जब वो अपनी बहन के साथ स्कूल से लौट रही थी। इस घटना ने पूरे देश को हिला कर रख दिया है। बताया जा रहा है कि जिस लड़के ने अटैक किया वो पहले पीड़िता का दोस्त था। दोनों का ब्रेकअप हो गया था। इसी का बदला लेने के लिए लड़के ने लड़की के चेहरे पर एसिड फेंक दिया। इस घटना में लड़की बुरी तरह से घायल हो गई है। उसका चेहरा झुलस गया और आंखे तक खुल नहीं पा रही है। उसका गंभीर अवस्था में अस्पताल में इलाज जारी है। इस घटना पर अब कंगना रनौत की प्रतिक्रिया सामने आयी है।

कंगना रनौत की बहन रंगोली चंदेल पर भी 16 साल पहले एसिड अटैक हुआ था। इस घटना में उनका चेहरा पूरी तरह से झुलस गया था। दिल्ली एसिड अटैक की घटना ने कंगना रनौत के 16 साल पुराने दर्द को फिर से कुरेद दिया है। कंगना रनौत ने अपने ऑफिशियल इंस्टा हैंडल पर पोस्ट कर लिखा, जब मैं टीनएजर थी, तब मेरी बहन रंगोली चंदेल पर रोड साइड रोमियो ने एसिड से हमला किया था… उसे 52 सर्जरी, अनगिनत मानसिक और फिजिकल ट्रॉमा से गुजरना पड़ा था… हमारी फैमिली बर्बाद हो गई थी… मुझे खुद थेरेपी लेनी पड़ी थी, क्योंकि मुझे लगता था कि कोई भी अजनबी जो कार या बाइक से मेरे पास से गुजर रहा है, वो मेरे ऊपर तेजाब फेंक देगा, मैं अपना चेहरा ढक लेती थी… । कंगना ने आगे लिखा, इन अत्याचारियों को अभी तक रोका नहीं गया है… सरकार को इन क्राइम के खिलाफ सख्त एक्शन लेने की जरूरत है… गौतम गंभीर से सहमत हूं कि एसिड अटैकर्स के खिलाफ कड़े कदम उठाए जाने चाहिए।

बता दें कि 5 अक्टूबर साल 2006 को रंगोली पर एसिड से हमला हुआ था। रंगोली के घर के पास रहने वाला एक लड़का उनके प्यार में पागल था। एसिड हमले की वजह से रंगोली को एक कान खोना पड़ा। उनकी एक आंख की रोशनी 90 प्रतिशत तक चली गई। ब्रेस्ट पर भी असर पड़ा। उन्हें खाना तक खाने में परेशानी होती थी। रंगोली की ये हालत देखकर उनके मम्मी-पापा कई बार बेहोश हो गए थे। रंगोली से जिस लड़के की सगाई होने वाली थी उसने भी इस हमले के बाद उनसे रिश्ता तोड़ दिया था।

 

RELATED ARTICLES

Most Popular