Thursday, December 1, 2022
HomeBollywoodHaseen Dillruba Movie Review: हसीन दिलरूबा की हसीन कहानी , जबरदस्त रोमांच...

Haseen Dillruba Movie Review: हसीन दिलरूबा की हसीन कहानी , जबरदस्त रोमांच और सस्पेंस, और मैसी की मर्डर मिस्ट्री

Haseen Dillruba Movie Review: फिल्म हसीन दिलरूबा का फैंस बेसब्री से इंतजार कर रहे थे लो आ गई आपकी फिल्म हसीन दिलरूबा। अब आप ये जानने के लिए भी बेताब होंगे कि इस फिल्म की आखिर पूरी कहानी क्या है। एक के बाद एक ट्विस्ट ही बनते चले जाने वाले इस फिल्म की कहानी बड़ी बेचीदा है। दरअसल तापसी पन्नू, विक्रांत मैसी और हर्षवर्धन राणे की दमदार एक्टिंग से सजी निर्देशक विनिल मैथ्यू की फिल्म हसीन दिलरूबा नेटफ्लिक्स पर रिलीज हो चुकी है। इस फिल्म का दमदार ट्रेलर देखने के बाद दर्शकों को फिल्म की रिलीज का इंतजार था जो अब पूरा हो गया है। नेटफ्लिक्स पर स्ट्रीम हो रही इस फिल्म को क्या आप इस हफ्ते वीकेंड पर देखना चाहेंगे। क्या ये फिल्म ट्रेलर के दावों पर खरी उतरती हैं। तापसी पन्नू ने अपनी फिल्मों में बोल्ड किरदार करके लोगों का दिल जीता है। मगर इस फिल्म में उनका किरदार एक्ट्रेस के फैंस को निराश कर सकता है। हालांकि तापसी, हर्षवर्धन और विक्रांत की दमदार एक्टिंग के लिए बॉलीवुड लाइफ इस फिल्म को 5 में से 2 स्टार देता है। आइए जानते हैं।

क्या है कहानी?
‘हसीन दिलरूबा’ की कहानी के केंद्र में रानी है। रानी एक खूबसूरत, हसीन और जवान लड़की है। उसे क्राइम और थ्र‍िलर पसंद है। खूब उपन्‍यास पढ़ती है। रानी पर अपने ही पति के कत्‍ल का इल्‍जाम है। लेकिन जैसे-जैसे पुलिस की जांच आगे बढ़ती है। रानी की शादीशुदा जिंदगी के राज भी खुलते जाते हैं। खून का यह मामला उलझता जाता है। अब तक जो केस पुलिस को ‘ओपन एंड शट’ लग रहा था, उसकी पेचीदगियों में जांच भी उलझती है और रानी का एक गैर मर्द के साथ अफेयर का किस्‍सा भी।

ये एक सस्पेंस थ्रिलर रोमांटिक फिल्म है। जिसमें तापसी पन्नू ने रानी कश्यप नाम की एक ग्लैमरस लड़की की भूमिका निभाई है जिसकी रिशू (विक्रांत मैसी) से अरेंज मैरिज होती है। जल्दी ही दोनों को एहसास होता है कि दोनों एक दूसरे के लिए परफेक्ट नहीं है और दोनों के बीच रोमांस शुरू होने से पहले ही खत्म हो जाता है। इसके बाद कहानी में नील (हर्षवर्धन राणे) की एंट्री होती है। जो रिशू का कजिन है। नील एक बेहद डैशिंग, हैंडसम, चार्मिंग लड़का है जो बिल्कुल तापसी पन्नू के सपनों के लड़के जैसा है। कहानी में ट्विस्ट आता है जब रिशू की मौत हो जाती है और सारा शक रानी और नील पर चला जाता है।

क्या है खास?
फिल्म के लीड कलाकारों तापसी पन्नू, हर्षवर्धन राणे और विक्रांत मैसी समेत साइड एक्टर्स ने भी शानदार काम किया है। आदित्य श्रीवास्तव, दया शंकर पांडे, आशीष वर्मा और यामिनी दास सभी ने दर्शकों को इंप्रेस किया है। जबकि अमित त्रिवेदी के गाने, बैक ग्राउंड स्कोर, जया कृष्णा गुम्मादी के कैमरा वर्क और श्वेता वेंकट मैथ्यू की एडिटिंग ने फिल्म को संभालने में अच्छी भूमिका निभाई है। फिल्म के सभी कलाकारों की एक्टिंग को छोड़कर इसमें कई कमियां रह गई है। कनिका ढिल्लन की कमजोर राइटिंग और डायरेक्शन की ढीली कमान दर्शकों को ब्रीथिंग स्पेस दे देती है। जिससे फिल्म अपनी पकड़ खो देती है। ‘हसीन दिलरूबा’ में कई ऐसे मौके हैं, जब आपको यह ऊटपटांग या यकीन से परे लगेगी। लेकिन यह भी सच है कि हर दूसरे मौके पर थ्र‍िल पैदा करने वाले ट्विस्‍ट और डार्क लव स्‍टोरी के रूप में यह आपको बांधे रखती है।

कहां रह गई कमी?
इसके अलावा हसीन दिलरुबा के साथ दो सबसे बड़े मुद्दे हैं। जो इसे कमजोर बनाते हैं। फिल्म का क्लाइमेक्स सीन बिल्कुल मसाला फिल्मों की तरह है। जबकि ये पूर्ण रूप से मसाला फिल्म नहीं है। फिल्म में तापसी पन्नू के किरदार रानी का पति रिशू के सामने सामने माफी के लिए गिड़गिड़ाना (बिना किसी गलती के), रिशे के मेल ईगो के चलते उसे शारीरिक चोट पहुंचाना एक्ट्रेस की फिल्में थप्पड़ और सांड की आंख के दर्शकों को हिला देगा। इस दौरान रानी के परिवार का गायब होना भी सवाल उठाता है। मूल रूप से, यह महिला सशक्तिकरण के मुद्दो को हवा देता है। ऐसे में ये फिल्म मसाला फिल्मों के सामने फीकी पड़ती दिखती हैं।

 

RELATED ARTICLES

Most Popular