Thursday, August 18, 2022
HomeBollywoodपहले फिल्मों में ऑडिशन देने के लिये एक्ट्रेस को डॉयरेक्टर के सामने...

पहले फिल्मों में ऑडिशन देने के लिये एक्ट्रेस को डॉयरेक्टर के सामने बदलने पड़ते थे कपड़े

मुंबई : फिल्में देखना तो लगभग अधिकांश लोगों को पसंद होता है। फिल्मों की शुरुआत कैसे हुईं, उनका ऑडिशन कैसे हुआ, फिल्मों के लिये हीरो-हीरोईन को कैसे सेलक्ट किया गया। तो आज हम आपके लिये ऐसी जानकारी सामने लेकर आये हैं, जिसके बारें में सुनकर आपको भी हैरानी होगी। ये दास्तां है साल 1951 की।

मुंबई : फिल्में देखना तो लगभग अधिकांश लोगों को पसंद होता है। फिल्मों की शुरुआत कैसे हुईं, उनका ऑडिशन कैसे हुआ, फिल्मों के लिये हीरो-हीरोईन को कैसे सेलक्ट किया गया। तो आज हम आपके लिये ऐसी जानकारी सामने लेकर आये हैं, जिसके बारें में सुनकर आपको भी हैरानी होगी। ये दास्तां है साल 1951 की।

साल 1951 में फिल्मों में ऑडिशन किस तरह से होता था। जेम्स बुर्के ने उस वक्त की कुछ तस्वीरें क्लिक की थी, जो कि लाइफ मैगज़ीन में पब्लिश में हुई थीं। इन तस्वीरों में सिनेमा जगत के महान डायरेक्टर अब्दुल राशिद करदार को युवा लड़कियों का स्क्रीन टेस्ट लेते हुए देख सकते हैं।

उस वक्त फिल्मों ऑडिशन देने के लिये एक्ट्रेस को डॉयरेक्टर के सामने कपड़े चेंज करने होते थे।

इनके लिये उन्हें बिल्कुल कॉन्फिडेंट होना पड़ता था।

अलग-अलग ड्रेस पहनकर एक्ट्रेस डॉयेक्टर के सामने आती थी तब डॉयेक्टर उनके हावभाव चलने के स्टाइल बोलने के स्टाइल से देखते थे कि कौन से रोल के लिये कौन सी एक्ट्रेस फिट रहेगी।

ये काफी मुश्किल होता होगा उस वक्त की एक्ट्रेसस के लिये।

 

RELATED ARTICLES

Most Popular