Sunday, December 4, 2022
HomeBollywoodKishore Kumar:  राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) के साथ किशोर कुमार (Kishore Kumar)...

Kishore Kumar:  राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) के साथ किशोर कुमार (Kishore Kumar) की थी गहरी दोस्ती 

Kishore Kumar: किशोर दा (Kishore Kumar) बहुमुखी प्रतिभा के धनी व्यक्ति थे। वो एक सुरीले गायक के साथ-साथ बेहतरीन अभिनेता भी थे। उनकी जबरदस्ती गायकी और कॉमिक टाइमिंग के कारण आज भी किशोर दा (Kishore Kumar) दर्शकों के पसंदीदा हैं। उनके गानों के साथ-साथ उनसे जुड़े किस्सों को भी लोग बहुत शौक से सुनते हैं। किशोर कुमार (Kishore Kumar) अपने चंचल स्वभाव से किसी का भी दिल जीत लेते थे। 13 अक्टूबर 1987 को दिल का दौरा पड़ने से किशोर कुमार (Kishore Kumar) का निधन हो गया। आज उनकी पुण्यतिथि पर जानते हैं किशोर दा से जुड़े दिलचस्प किस्से-

Kishore Kumar: किशोर दा (Kishore Kumar) बहुमुखी प्रतिभा के धनी व्यक्ति थे। वो एक सुरीले गायक के साथ-साथ बेहतरीन अभिनेता भी थे। उनकी जबरदस्ती गायकी और कॉमिक टाइमिंग के कारण आज भी किशोर दा (Kishore Kumar) दर्शकों के पसंदीदा हैं। उनके गानों के साथ-साथ उनसे जुड़े किस्सों को भी लोग बहुत शौक से सुनते हैं। किशोर कुमार (Kishore Kumar) अपने चंचल स्वभाव से किसी का भी दिल जीत लेते थे। 13 अक्टूबर 1987 को दिल का दौरा पड़ने से किशोर कुमार (Kishore Kumar) का निधन हो गया। आज उनकी पुण्यतिथि पर जानते हैं किशोर दा से जुड़े दिलचस्प किस्से-

हिंदी सिनेमा के पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) और किशोर दा (Kishore Kumar) बहुत अच्छे दोस्त थे। फिल्म आराधना में किशोर कुमार (Kishore Kumar) ने पहली बार राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) के लिए गाना गाया था। पहले तो वो राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) के लिए गाना गाने को तैयार नहीं हुए। उन्होंने काका को अपने घर पर बुलाया और उनसे बातचीत की। काका की बात से किशोर दा इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने फिल्म आरधना के सारे गाने गाए। फिल्म के साथ-साथ सारे गाने भी सुपरहिट हुए। इसके बाद तो राजेश खन्ना (Rajesh Khanna)  की अधिकतर फिल्मों में किशोर कुमार (Kishore Kumar) ने अपनी आवाज दी थी।

1976 में रिलीज हुई राजेश खन्ना की फिल्म महबूब में किशोर कुमार ने ‘मेरा नैना सावन भादो’ गाना गाया था।  इस गाने को पहले मोहम्मद रफी गाने वाले थे। लेकिन राजेश खन्ना ने प्रोड्यूसर से ये गाना किशोर कुमार से गंवाने के लिए कहा, इसके लिए उन्होंने लगभग एक महीने तक अपने प्रोड्यूसर को मनाया था। बाद में ये गाना एक बहुत ही बड़ा हिट साबित हुआ।

किशोर दा उस सदी के ऐसे गायक रहें जिन्होंने मेल और फीमेल दोनों ही आवाज में गाना गाए। किशोर दा भले ही फिल्म इंडस्ट्री का हिस्सा थे, लेकिन वह खुद को बॉलीवुड की पार्टीज और चकाचौंध से खुद को दूर रखना ही पसंद करते थे। ले

 

RELATED ARTICLES

Most Popular