Monday, July 4, 2022
HomeBollywoodGulshan Kumar: अनुराधा पौडवाल  (Anuradha Paudwal) को दूसरी लता मंगेशकर बनाना चाहते...

Gulshan Kumar: अनुराधा पौडवाल  (Anuradha Paudwal) को दूसरी लता मंगेशकर बनाना चाहते थे गुलशन कुमार (Gulshan Kumar)

Gulshan Kumar:भजन सम्राट गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) अगर जिंदा होते तो आज अपना 66वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं। टी सीरिज नाम की छोटी सी म्यूजिक कैसेट कंपनी से शुरुआत करने वाले गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) ने म्यूजिक की दुनिया में तहलका मचा दिया था। अपनी मेहनत के दम पर गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) हिंदी म्यूजिक इंडस्ट्री के कैसेट किंग का तमगा हासिल कर लिया था। 10 साल में ही गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) ने टी सीरिज के बिजनेस को 350 मिलियन तक पहुंचा दिया था। गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) ने कुमार शानू, सोनू निगम और अनुराधा पौडवाल जैसे सिंगर्स को लॉन्च किया था। गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) अनुराधा पौडवाल  (Anuradha Paudwal) को दूसरी लता मंगेशकर बनाना चाहते थे।

Gulshan Kumar:भजन सम्राट गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) अगर जिंदा होते तो आज अपना 66वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं। टी सीरिज नाम की छोटी सी म्यूजिक कैसेट कंपनी से शुरुआत करने वाले गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) ने म्यूजिक की दुनिया में तहलका मचा दिया था। अपनी मेहनत के दम पर गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) हिंदी म्यूजिक इंडस्ट्री के कैसेट किंग का तमगा हासिल कर लिया था। 10 साल में ही गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) ने टी सीरिज के बिजनेस को 350 मिलियन तक पहुंचा दिया था। गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) ने कुमार शानू, सोनू निगम और अनुराधा पौडवाल जैसे सिंगर्स को लॉन्च किया था। गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) अनुराधा पौडवाल  (Anuradha Paudwal) को दूसरी लता मंगेशकर बनाना चाहते थे।

टी सीरिज की खोज ही अनुराधा पौडवाल  (Anuradha Paudwal) जैसी सुरीली आवाज वाली गायिका को सबके सामने लेकर आयी थी।  अनुराधा ने ‘काली चरण’ और फिल्म ‘अभिमान’ में गाकर अपनी जादुई आवाज सुनाई थी। अनुराधा ने लक्ष्मीकांत प्यारेलाल, कल्याणजी-आनंद जी राजेश रोशन जैसे संगीतकारों के साथ काम कर सफलता की सीढ़ी चढ़ रही थीं। जब पूरा जमाना लता मंगेशकर और आशा भोसले की आवाज का दीवाना था उस दौर में अनुराधा पौडवाल (Anuradha Paudwal) ने संगीत की दुनिया में कदम रखा था। गुलशन कुमार, अनुराधा पौडवाल को दूसरी लता मंगेशकर बनाना चाहते थे हालांकि ऐसा नहीं हो पाया।

अनुराधा पौडवाल (Anuradha Paudwal) का करियर बनाने में गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) का बहुत बड़ा हाथ था। उस दौर में टी सीरिज के साथ हर कोई काम करना चाहता था। ऐसे वक्त में अनुराधा को गुलशन कुमार का साथ मिला था। जैसे-जैसे गुलशन कुमार (Gulshan Kumar) आसमां की बुलदियों को छू रहे थे। वैसे-वैसे उनके दुश्मन बनते जा रहे थे।

एक बार अबु सलेम अंडरवर्ल्ड डॉन ने गुलशन कुमार से हर महीने फिरौती देने के लिए कहा तो गुलशन कुमार ने इनकार कर दिया। इसके बाद वो अंडरवर्ल्ड के निशाने पर आ गए और 12 अगस्त 1997 को 2 अज्ञात लोगों ने उनपर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। उनको 16 गोलियां मारकर उन्हें छलनी कर दिया था।

अचानक से हुई गुलशन कुमार की मौत के बाद अनुराध पूरी तरह से टूट गई थीं। इसके बाद तो उन्होंने फिल्मी गाने गाना छोड़ ही ‌दिए। फिर वो सिर्फ भजन गाने लगीं। इसके बाद धीरे-धीरे उन्होंने पूरी तहर से गायन से दूरी बना ली।

RELATED ARTICLES

Most Popular