Friday, July 1, 2022
HomeBollywoodशबाना आजमी : शबानी आजमी (Shabana Azmi) ने तिरंगे के रंग का...

शबाना आजमी : शबानी आजमी (Shabana Azmi) ने तिरंगे के रंग का हिजाब पहनी लड़कियों की तस्वीर की शेयर, जावेद अख्तर हो गये ट्रोल

शबाना आजमी : कर्नाटक के शैक्षिक संस्थान से शुरु हुआ हिजाब पर छिड़ा विवाद अब देश भर में पहुंच गया है। ये मामला सुप्रीम कोर्ट तक जा पहुंचा है। कोई हिजाब का विरोध करता दिख रहा है तो कोई हिजाब का समर्थन कर रहा है। हिंदी सिनेमा जगत के भी बहुत से कलाकारों ने इस मामले पर अपनी रॉय रखी है। अब बॉलीवुड अभिनेत्री और मशहूर लेखक और गीतकार जावेद अख्तर (Javed Akhter) की पत्नी  शबानी आजमी (Shabana Azmi) ने अपनी रॉय रखी है।

शबाना आजमी : कर्नाटक के शैक्षिक संस्थान से शुरु हुआ हिजाब पर छिड़ा विवाद अब देश भर में पहुंच गया है। ये मामला सुप्रीम कोर्ट तक जा पहुंचा है। कोई हिजाब का विरोध करता दिख रहा है तो कोई हिजाब का समर्थन कर रहा है। हिंदी सिनेमा जगत के भी बहुत से कलाकारों ने इस मामले पर अपनी रॉय रखी है। अब बॉलीवुड अभिनेत्री और मशहूर लेखक और गीतकार जावेद अख्तर (Javed Akhter) की पत्नी  शबानी आजमी (Shabana Azmi) ने अपनी रॉय रखी है।

उन्होंने हाल ही में अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर तिरंगे के रंग का हिजाब पहनी कुछ लड़कियों की तस्वीर शेयर की है। लड़कियों की तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा है कि उन्हें उनके ही तरीके से हराना कैसा है? शबानी आजमी की इस पोस्ट पर खूब प्रतिक्रियायें आ रही हैं।

 

शबाना के इस पोस्ट पर फिल्ममेकर अशोक पंडित ने प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि ये लोग ही राष्ट्रीय ध्वज को सांप्रदायिक रंग देने के बारे में सोच सकते हैं और फिर वे खुद को धर्मनिरपेक्ष कहते हैं। वैसे शबानाजी, जावेद अख्तर साहब कभी मुस्लिम महिलाओं को हिजाब की बेड़ियों से मुक्त कराने के हिमायती थे।

एक यूजर ने लिखा, जिनको हिजाब पसंद है वो पाकिस्तान आ जाओ। यहां मन नही भरे तो अफगानिस्तान चले जाओ, बॉर्डर हम क्रास करा देंगे। किसी ने लिखा, यह हमारे तिरंगे का अपमान करने वाली क्रिया है।

एक ने लिखा, स्कूल में सिर्फ यूनिफॉर्म होगा, अगर आप यूनिफॉर्म नहीं पहनना चाहते हैं। जब तक आप उस स्कूल द्वारा निर्धारित यूनिफॉर्म में न हों, तब तक स्कूलों में प्रवेश न करें। अन्य यूजर ने लिखा,  शबाना आजमी को साधारण जी बात समझ नहीं आती है कि स्कूल, कॉलेज में यूनिफॉर्म होता है, अगर आज कुछ भी पहन के चले जाओ तो कल को कोई भगवा भी पहन के आ जाएगा।

किसी ने लिखा, शर्म करो ये देश का तिरंगा है। इसे तो मत लाओ हिन्दू मुस्लिम विवाद में। अगर सम्मान नहीं कर सकते तो कोई हक नहीं आपको इस देश में रहने का। दूसरे ने लिखा,  इस्लाम में दारु हराम है,वो तो जावेद साहब छोड़ते नही होंगे।

RELATED ARTICLES

Most Popular