Wednesday, June 29, 2022
HomeBollywoodGanesha Acharya : मशहूर कोरियोग्राफर गणेश आचार्य (Ganesha Acharya) पर सेक्सुअल हैरेसमेंट...

Ganesha Acharya : मशहूर कोरियोग्राफर गणेश आचार्य (Ganesha Acharya) पर सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप

Ganesha Acharya : बॉलीवुड इंडस्ट्री के मशहूर कोरियोग्राफर गणेश आचार्य (Ganesha Acharya) पर सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप लगा है। उनकी को डांसर के द्वारा साल 2020 में ही गणेश आचार्य (Ganesha Acharya) के खिलाफ केस दर्ज करवाया गया था। अब इस मामले में चार्जशीट फाइल की गई है। गणेश आचार्य (Ganesha Acharya) के ऊपर सेक्शुअल हैरेसमेंट, पीछा करने और ताक-झांक करने का आरोप लगाया है।

Ganesha Acharya : बॉलीवुड इंडस्ट्री के मशहूर कोरियोग्राफर गणेश आचार्य (Ganesha Acharya) पर सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप लगा है। उनकी को डांसर के द्वारा साल 2020 में ही गणेश आचार्य (Ganesha Acharya) के खिलाफ केस दर्ज करवाया गया था। अब इस मामले में चार्जशीट फाइल की गई है। गणेश आचार्य (Ganesha Acharya) के ऊपर सेक्शुअल हैरेसमेंट, पीछा करने और ताक-झांक करने का आरोप लगाया है।

गणेश आचार्य (Ganesha Acharya) के खिलाफ ट्रेनी डांसर ने आरोप लगाया है कि गणेश ने उन्हें जबरदस्ती पोर्न फिल्म दिखाई और मोलेस्ट करने का प्रयास किया। यही नहीं विरोध करने पर उनके साथ मारपीट भी की थी। इस मामले में मुंबई के ओशिवारा पुलिस अधिकारी संदीप शिंदे इस मामले की जांच कर रहे हैं और उन्होंने अंधेरी के मेट्रोपोलियन मेजिस्ट्रेट कोर्ट में चार्जशीट फाइल की है। इस मामले पर संदीप शिंदे ने कहा, अब कोर्ट में चार्जशीट फाइल कर दी है।गणेश आचार्य (Ganesha Acharya) और उनके सहायक पर धारा 354a, 354c, 354d, 509, 323, 504, 506 और 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

हालांकि चार्जशीट होने के बाद अब गणेश आचार्य (Ganesha Acharya) की ओर से कोई ऑफिशियल स्टेटमेंट सामने नहीं आया है। जब को डांसर ने गणेश पर साल 2020 में केस दर्ज किया था उस वक्त उन्होंने सारे आरोपों से इंकार कर दिया था। शिकायकर्ता के मुताबिक गणेश आचार्य ने साल 2019 में उनसे कहा था सफलता चाहिए तो उन्हें उनके साथ संबंध बनाने होंगे, उन्होंने ऐसा करने से इंकार कर दिया तो 6 महीने के बाद इंडियन फिल्म और टेलीविजन कोरियोग्राफर एसोसिएशन ने उनकी मेंबरशिप रद्द कर दी गई थी।

शिकायकर्ता ने कहा था, ‘महिला असिस्टेंट्स ने मुझे पीटा, मुझे गाली दी और मुझे बदनाम किया जिसके बाद मैं पुलिस के पास गई जिन्होंने शिकायत दर्ज करने से इनकार कर दिया और केवल एक नॉन-कॉग्निजेबल केस दर्ज किया। फिर मैंने मामले को आगे बढ़ाने के लिए एक वकील से संपर्क किया।

 

RELATED ARTICLES

Most Popular